Home » Shadman Hai

Shadman Hai

shadmaan hai

Verse 1

सारे जहाँ में येशु तेरा जुनूँ है छा
हर जुबाँ पे तू ही तू है दिख रहा
तेरी दिवानगी में है जो मज़ा मेरे येशु
तो काफिल-ए मसीहा यूँ बढ़ता जा रहा

Pre-chorus

तेरी वफा से बढ़कर, कुछ नहीं है बहतर – 2
अब तो जीना है मसीह, मरना है नफा

Chorus

शादमान है ये ज़मीन और आसमाँ
सितारे भी करते हैं तेरी महिमा बयाँ
तू महरबान है ओ मेरे खुदा
तो क्यों न करूँ मैं तेरा शुक्रिया सदा
मैं करता रहूँगा तेरा शुक्रिया सदा – 2

Verse 2

कोई न कर सकेगा वो जो तूने है कर दिया
मुझे ये ज़िन्दगी दी खुद को कर ज़बह
मौत को हराया जिन्दा हुआ जब मुर्दों से
बढ़ती रहेगी तेरी सलतनत सदा

Shadman Hai Lyrics and Chords